आज से श्रावण मास, कावड़ यात्रा शुरू

पवित्र श्रावण मास का आज प्रथम सोमवार है। पूरा देश शिवमय हो चला है। शिव आस्था के प्रमुख केंद्रों पर रविवार को ही देश-दुनिया से भक्तों का जुटना प्रारंभ हो गया था। अमरनाथ, केदारनाथ, नीलकंठ महादेव, काशी विश्वनाथ, बाबा बैद्यनाथ, महाकाल और ओंकारेश्वर सहित देशभर मेंशिवालयों की रौनक देखते बन रही है।

कावड़ यात्रा शुरू
देश-विदेश के कोने-कोने से उज्जैन में महांकालेश्वर का जलाभिषेक करने के लिए लाखों शिवभक्त जुट गए हैं। शिवभक्तों के स्वागत में बाबा नगरी पूरी तरह से तैयार है। उम्मीद है कि आज सवा लाख से अधिक भक्तों को बाबा की पूजा-अर्चना करने का सौभाग्य मिलेगा। श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए उज्जैन ही नहीं देश के कई हिस्सों से यहां आकर सेवा देने वाले शिवभक्त भी पुख्ता तैयारी कर उनके स्वागत के लिए पलकें बिछाए हैं। ओम्कारेश्वर से नर्मदा जल लेकर आने वाले कांवडि़यों को 150 किमी यात्रापथ में हर सुविधा दी गई है।

ज्योतिर्लिंग महाकालेश्वर मंदिर, उज्जैन
इस बार पहला सोमवार 6 जुलाई, दूसरा 13 जुलाई, तीसरा 20 जुलाई, चौथा 27 जुलाई और पांचवां सोमवार 3 अगस्त को रक्षाबंधन और स्नानदान पूर्णिमा व्रत के साथ मनाया जाएगा। ज्योतिर्विद पं. हरीश पायक के अनुसार 20 जुलाई को आने वाले सावन सोमवार के साथ सोमवती अमावस्या और हरियाली अमावस्या का भी संयोग बन रहा है। इस दिन पितरों की शांति के लिए पिण्ड दान व नदियों में स्नान करने का विशेष महत्व होता है, जिससे विशेष फल की प्राप्ति होती है। 23 को श्रावणी तीज व हरियाली तीज मनाई जाएगी। 25 को नागपंचमी पर नागदेवता का पूजन होगा। 3 अगस्त को भाई-बहन के पर्व रक्षाबंधन के साथ सावन माह का समापन होगा। 16 जुलाई को कामिका एकादशी व 30 को पुत्रदा, पवित्रा एकादशी व्रत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़े

google-site-verification=I1CQuvsXajupJY4ytqNfk1mN82UWIIRpwhZUayAayVM