जहरीली शराब कांड में मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही, 14 लोगों की हो चुकी है अब तक मौत

उज्जैन। जहरीली शराब कांड के बाद प्रशासन की नींद खुली गुरुवार की देर रात चेकिंग अभियान के दौरान कही फुट पाथ पर सो रहे मजदुरो को उठाया गया तो कहीं उन्हें भगा दिया गया,आश्चर्य की बात यह है जिला चिकित्सालय के बाहर ही 30 से अधिक मजदूर दीवार किनारे बिस्तर लगा कर सो रहे थे, जिनमे से कुछ लोकल शहर के ही तो तो कुछ जिले की तहसीलों से काम पर आये और उनकी बस छूटने की वजह से यही सो गए कुछ ने तो परिवार के कलह से परेशान होकर भी सड़क किनारे बिस्तर लगा कर सो रहे थे।

36 घंटे में अभी तक 14 लोगों की मौत हो चुकी है, इस मामले में एसआईटी ने जांच शुरू कर दी है।

एक व्यक्ति से मौके पर एसडीएम ने बात की तो पाया कि वो काशी विश्वनाथ से यहां महाकाल की नगरी काम की तलाश में आया हुआ है।

नगर निगम आयुक्त, एडीएम व डॉक्टर्स की टीम फुटपाथ पर सो रहे लोगो को केवल समझाइश दे रही है शराब के सेवन का चेकउप करना तो कही गया, हांलकि जिन्होंने ज्यादा शराब पी उनको सीधा अस्पताल के अंदर रेन बसेरे में शिफ्ट करवाया गया।

डीनेचरस्प्रिट के सेवन से संदिग्ध रूप से हुई मृत्यु के मामले में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा भेजे गए वरिष्ठ अधिकारियों का जांच दल उज्जैन पहुंच चुका है। जांच दल की ओर से अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉक्टर राजेश राजौरा ने बताया है कि घटना से सम्बंधित या स्पिरिट से नशायुक्त पेय बनाने अथवा अवैध शराब निर्माण की जानकारी के संबंध में यदि कोई व्यक्ति जानकारी देना चाहता है तो वह 17 अक्टूबर को दोपहर 12:00 बजे से 1:00 बजे तक सर्किट हाउस पर आकर जांच दल से मिलकर जानकारी दे सकता है । जानकारी देने वाले व्यक्ति का नाम गोपनीय रखा जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

आपका मुद्दा

उठाइए अपना मुद्दा, ओबेन न्यूज़ बनेगा आपकी आवाज। शिक्षा, सड़क, बिजली, नौकरी, काम से सम्बन्धित किसी भी मुद्दे का वीडियो बना कर 9111124210 पर भेजें।