चट्टान पर काई से पैर फिसले, सीधा गहरी नदी में डूबने से बामनखेड़ा के दो युवकों की मौत

देवास | जिले के ग्राम बामनखेड़ा निवासी दो युवकों की नर्मदा स्नान करने के दौरान डूबने से मौत हो गई। नगर परिषद के गोताखोरों द्वारा काफी मशक्कत के बाद शव बाहर निकाले। पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवाते हुए स्वजनों को सूचना दे दी है।

बुधवार को ग्राम बामनखेड़ा निवासी 18 वर्षीय गौतम पुत्र प्रताप लौवंशी, 17 वर्षीय हेमंतराज पुत्र रघुनाथ देवड़ा, 28 वर्षीय निलश पुत्र प्रेमसिंह, 17 वर्षीय नीरज पुत्र द्वारका प्रसाद निवासी आवासनगर वार्ड क्रमांक दो थाना बीएनपी देवास, 17 वर्षीय उत्सव पुत्र जितेंद्रसिंह तोमर निवासी ब्रजविहार कॉलोनी थाना बीएनपी देवास और 17 वर्षीय दुष्यंत पुत्र पंकज खत्री निवासी मोती बंगला थाना कोतवाली देवास कार से ओंकारेश्वर पहुंचे थे।

कार चालक अशोक ने बताया कि दोपहर करीब 2ः30 बजे सभी युवक ओंकारेश्वर बांध के पास ब्रह्मपुरीघाट पर स्नान करने पहुंचे। गौतम, हेमराज और उत्सव चट्टान स्नान कर रहे थे। इसी दौरान काई के कारण पैर फिसला और तीनों गहरे पानी में चले गए। उत्सव तैरकर बाहर आया और गौतम व हेमराज को बचाने के लिए आवाज लगाने लगा। घाट पर कोई गोताखोर नहीं होने से दोनों डूब गए। सूचना मिलते ही थाने से पुलिस बल पहुंचा।

वहीं नगर परिषद के गोताखोर लक्ष्मण केवट, तुकाराम केवट और मनोज दांगोरे ने डुबकी लगाकर काफी मशक्कत के बाद गौतम और हेमराज को बाहर निकाला। तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी। एएसआइ महेश श्रीवास्तव ने बताया कि शवों को पोस्टमार्टम के लिए शासकीय अस्पताल भिजवाकर स्वजनों को सूचना दे दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़े

आपका मुद्दा

उठाइए अपना मुद्दा, ओबेन न्यूज़ बनेगा आपकी आवाज। शिक्षा, सड़क, बिजली, नौकरी, काम से सम्बन्धित किसी भी मुद्दे का वीडियो बना कर 9111124210 पर भेजें।