एनसीसी डे के अवसर पर कैडेट्स ने किया रक्तदान

आज एनसीसी दिवस के अवसर पर 1 ए म पी गर्ल्स बटालियन इंदौर द्वारा चिमन बाग नूतन स्कूल स्थित यूनिट पर रक्तदान शिविर का आयोजन किया जिसमें गर्ल्स केडेट व अनेक परिवार के सदस्यों ने बड़चड़कर भाग लिया।

जहा एक और कहा जाता है की लड़कियां रक्तदान करने में आगे नहीं आती वही बटालियन के शिविर में गर्ल्स कैडेट ने जमकर भाग लिया व रक्तदान किया
कई कैंडट जो हाल ही में 18 वर्ष की हुई है उन्होंने भी पूरे जोश के साथ रक्तदान किया।

शिविर में यूनिट के प्रशासनिक अधिकारी मेजर एन हाउचिंग व स्टाफ द्वारा भी रक्तदान किया।
जहां एक और कोविड19 की वजह से लोग रक्तदान से घबरा रहे हैं ऐसे में इन गर्ल्स कैडेट द्वारा शिविर में भाग लेना एक मिसाल है।

यहां शिविर एम वाई हॉस्पिटल मॉडर्न ब्लड बैंक के साथ आयोजित किया गया। यह जानकारी NCC अधिकारी लेफ्टिनेंट नम्रता सावंत द्वारा प्रदान की गई।

क्या है NCC?

NCC की फुल फॉर्म राष्ट्रीय कैडेट कोर है यह भारत का सैन्य कैडेट कोर है जो छात्र और छात्राओं को सैन्य प्रशिक्षण प्रदान करता है। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में है यह देश के युवाओं को जागृत करने और उनमें जोश लाना और सेना में हिस्सा लेने के लिए प्रोत्साहित करता है।

एनसीसी स्वैच्छिक रूप से स्कूल और कॉलेज के छात्रों के लिए खोला गया है। हमारे भारत की नौसेना, वायु सेना, थल सेना इन NCC Cadet को ट्रेनिंग देती है।

सबसे पहले एनसीसी की शुरुआत जर्मनी में हुई थी। भारत में एनसीसी की शुरुआत 1948 में हुई थी।

सेना की कमी के कारण एन सी सी की उत्पत्ति की गयी थी। एनसीसी के तीन सर्टिफिकेट होते है ‘A’,’B’, ‘C’ ये तीन सर्टिफिकेट एनसीसी कैडेट प्राप्त कर सकता है। इन तीनो सर्टिफिकेट में प्रवेश करने के नियम अलग अलग होते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़े

आपका मुद्दा

उठाइए अपना मुद्दा, ओबेन न्यूज़ बनेगा आपकी आवाज। शिक्षा, सड़क, बिजली, नौकरी, काम से सम्बन्धित किसी भी मुद्दे का वीडियो बना कर 9111124210 पर भेजें।