नाबालिग लड़की के अपहरण, जानलेवा हमले और गैंगरेप की शिकायत का मामला झूठा निकला

मप्र | नाबालिग लड़की के अपहरण, जानलेवा हमले और गैंगरेप की शिकायत का मामला झूठा निकला है, जिसकी पुष्टि खुद आईजी हरिनारायणचारी मिश्रा ने की है। उन्होंने बताया कि लड़की के खिलाफ सेक्शन 182/211 के तहत मामला दर्ज किया गया है। यही नहीं लड़की ने खुद को चाकू मारकर घायल किया और पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की।

पहले गैंगरेप और जानलेवा हमले की खबर आई थी सामने

इससे पहले खबर आई थी कि बैतूल जिले में 14 साल की नाबालिग के साथ बलात्कार के बाद आरोपी ने मासूम बच्ची को पत्थरों के बीच दफना दिया था, लेकिन वह बच गई और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। बैतूल में पीड़िता खेत में पंप चालू करने गई थी। जब शाम तक वो वापस नहीं लौटी तो मां-बाप ने उसे खोजना शुरू किया। जब वे लोग एक नाले की ओर गए तो वहां बच्ची के कराहने की आवाज सुनाई दी। आरोपी ने उसे ज़िंदा पत्थर और कांटों के बीच दफन कर दिया था। इस मामले में ट्विस्ट तब आया जब पुलिस द्वारा सख्ती से गई पूछताछ में छात्रा टूट गई और झूठा प्रकरण दर्ज करवाने की बात कबूल की।

5 लोगों को फंसाना चाहती थी छात्रा

पुलिस के मुताबिक- छात्रा अपने परिचितों को फंसाना चाहती थी। छात्रा ने 5 लोगों पर गैंगरेप का आरोप लगाया था, लेकिन शुरू से ही छात्रा की कहानी पुलिस के गले नहीं उतर रही थी। जब पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो लड़की ने बताया कि मुझसे गलती हो गई। इसके साथ ही छात्रा के मानसिक तनाव में होने की बात भी सामने आई है। ये छात्रा पहले भी चार बार प्रकरण दर्ज करवा चुकी है। इस बार भी उसने झूठा प्रकरण दर्ज करवाकर पांच लोगों को फंसाने की कहानी बनाई थी।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़े

google-site-verification=I1CQuvsXajupJY4ytqNfk1mN82UWIIRpwhZUayAayVM