इंदौर-भोपाल में तत्काल मास्क हुआ अनिवार्य, महाराष्ट्र से आने वालों का होगा स्वास्थ्य परीक्षण

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल और इंदौर में कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद सरकार फिर अलर्ट हो गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर समीक्षा बैठक की। कोरोना के संबंध में लगातार सतर्कता जरूरी है। थोड़ी सी लापरवाही विकराल रूप ले सकती है। भोपाल और इंदौर में कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद मुख्यमंत्री ने इंदौर और भोपाल में तत्काल मास्क को अनिवार्यता सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए।

इंदौर और भोपाल में तत्काल मास्क को अनिवार्यता सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए।

इसके साथ महाराष्ट्र से लगे सभी जिलों में आने वाले व्यक्तियों का परीक्षण करने के निर्देश भी दिए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि शिवरात्रि पर्व पर होने वाले मेलों के संबंध में सतर्कता और जागरूकता आवश्यक है। विशेषकर महाराष्ट्र से लगे जिलों में आयोजित होने वाले मेलों में सहभागिता के संबंध में आरटी पीसीआर के परीक्षण की अनिवार्यता किए जाने की बात कही।

बैठक में इंदौर और भोपाल से राज्य के अन्य भागों में होने वाले आवागमन पर सतर्कता के संबंध में भी विचार विमर्श हुआ। साथ ही सभी जिला कलेक्टरों को निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने जिलों में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक तत्काल आयोजित करें तथा जिला स्तर पर विद्यमान परिस्थितियों को देखते हुए आवश्यक सावधानी के संबंध में तत्काल निर्णय लें।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़े

google-site-verification=I1CQuvsXajupJY4ytqNfk1mN82UWIIRpwhZUayAayVM