ड्रोन फोटोग्राफी-वीडियोग्राफी के लिए चुकाने होंगे 10 हजार

मध्य प्रदेश शासन संस्कृति विभाग के अंतर्गत राज्‍य के संरक्षित स्मारकों पर प्री वेडिंग शूट और ड्रोन फोटोग्राफी करने के लिए शुल्क चुकाना होगा।

ड्रोन फोटोग्राफी-वीडियोग्राफी के लिए 10 हजार और प्री वेडिंग शूट के लिए पांच हजार रुपये देने होंगे। इन स्थानों पर फिल्मांकन की दरें भी बढ़ाई गई हैं।

सूत्रों के अनुसार दरों में परिवर्तन 10 साल बाद किया गया है।

उल्लेखनीय है कि स्मारकों में पहले वेडिंग शूट, ड्रोन फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी के लिए अनुमति लेने का प्रविधान नहीं था, इसलिए लोग स्मारकों के टिकट लेकर ही प्री वेडिंग शूट, ड्रोन फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी आदि कर लेते थे, लेकिन अब उन्हें शुल्क चुकाना होगा।

इन स्मारकों पर फिल्मांकन के लिए पहले जहां 50 हजार रुपए का भुगतान करना होता था, वहीं अब 75 हजार रुपये देने होंगे।

इसी प्रकार वृत्तचित्र, टेलीफिल्म के लिए अब 20 हजार के बजाय 25 हजार रुपये देने होंगे। प्रतिभूति (सिक्योरिटी) दर में भी मामूली बढ़ोतरी की गई है।

पुरातत्व अभिलेखागार एवं संग्रहालय के अधीन प्रदेश में 527 संरक्षित स्मारक हैं, जिन में से करीब आधे फिल्मांकन के लिहाज से उपयुक्त हैं। उल्लेखनीय है कि भोपाल शहर में भी इस्लाम नगर, मोती महल और सदर मंजिल जैसे कई लोकप्रिय स्मारक हैं, जहां फिल्म शूटिंग खूब होती है।

फिल्मों से बढ़ेगी आय

उल्लेखनीय है कि अनलॉक के बाद प्रदेश में फिल्म शूटिंग में बूम आ गया है। वर्तमान में फिल्म, बेव सीरीज और सीरियल के करीब डेढ़ सौ प्रोजेक्ट प्रदेश में चल रहे हैं।

सभी निर्माता रियल लोकेशन के लिए शूटिंग से लिहाज से स्मारकों को चुनते हैं। अब तक इनसे दस साल पुरानी दर के हिसाब से शुल्क लिया जाता था। नई दरों का निर्धारण होने से संस्‍कृति विभाग की आय बढ़ेगी।

वहीं ड्रोन फोटोग्राफी और प्री वेडिंग शूट का 10 साल पहले चलन न होने से इनका प्रावधान ही नहीं था। ऐसे में बताने पर उन्हें अनुमति नहीं मिलती थी। इससे लोग पर्यटक का टिकट लेकर स्मारकों में प्रवेश ले लेते थे और शूट भी कर लेते थे। नये आदेश से उन्हें पूरा शुल्क चुकाना पड़ेगा।

शूटिंग की दरों के पुनरीक्षण का मामला अरसे से लंबित था। इससे लोगों को सुविधाएं मिलने के साथ सरकार की आय भी बढ़ेगी।

प्री वेडिंग शूट का कोई प्रविधान न होने से पहले लोग सिर्फ मामूली दर से टिकट लेकर ही अंदर शूट भी कर लेते थे, जिस पर अब रोक लगेगी।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़े