9वीं और 11वीं के छात्रों को सरकार ने दी बड़ी राहत, घर से दे सकेंगे एग्जाम

पूरे देश के साथ मध्य प्रदेश में भी कोरोना कहर बरपा रहा है. ऐसे में यहां एक से आठवीं तक के स्कूल 15 अप्रैल तक बंद रखने का फैसला किया गया है. वहीं 9वीं और 11वीं के छात्रों को सरकार ने बड़ी राहत दी है. 9वीं और 11वीं की फाइनल परीक्षा ऑफलाइन नहीं ली जाएंगी.

इसे लेकर प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार का बयान सामने आया है. उन्होंने कहा कि इन दोनों क्लास के स्टूडेंट घर से ही एग्जाम दे सकेंगे. इसके लिए छात्रों को प्रश्न पत्र घर भेजे जाएंगे. जिसे हल करने के बाद वो अपने स्कूल में जमा कराएंगे.

स्कूल शिक्षा विभाग ने कक्षा 9वीं और 11वीं की फाइनल परीक्षा ओपन बुक सिस्टम से कराने का फैसला लिया है.

मध्य प्रदेश में कक्षा नौवीं और 11वीं की फाइनल परीक्षाएं 12 अप्रैल से होनी हैं. इसके लिए पूरी तैयारी भी कर ली गई हैं. वहीं स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार का कहना है कि प्रदेश भर के ज्यादातर जिलों में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है. ऐसे में बच्चों की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ नहीं किया जा सकता है. हमारी सहयोगी वेबसाइट जी न्यूज के मुताबिक अब घर से ही परीक्षाएं कराने को लेकर जल्द ही आदेश जारी किया जाएगा.

10वीं और 12वीं छात्रों को भी राहत (Relief for 10th,12th students also)

एमपी में बोर्ड परीक्षा शुरू होने से पहले 10वीं और 12वीं के छात्रों को भी राहत दी गई है. मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल ने उनके लिए एक हेल्पलाइन शुरू किया है. बोर्ड परीक्षाओं के बारे में छात्रों की सुविधा के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है. यह हेल्पलाइन 1 अप्रैल से शुरू हो गई है.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़े

google-site-verification=I1CQuvsXajupJY4ytqNfk1mN82UWIIRpwhZUayAayVM