कोरोना संक्रमण के मामले में एमपी देश में सातवें स्थान पर

भोपाल | मध्य प्रदेश (MP) में कोरोना (Corona) दिन पर दिन बेकाबू होता नजर आ रहा है. कोरोना संक्रमण के मामले में एमपी देश में सातवें स्थान पर पहुंच गया है. 7 दिन में इंदौर का औसत पॉजिटिविटी रेट 15 जबकि भोपाल का 19 पर पहुंच गया है. हालात अब सबको डरा रहे हैं. सरकार बार-बार लोगों से जागरुक रहने की अपील कर रही है और अब वो किल कोरोना-II अभियान शुरू करेगी.

इस बीच कोरोना संक्रमण का पॉजिटिविटी रेट जबलपुर में 11, उज्जैन में 9, खरगोन और रतलाम में 15, बैतूल में 13, बड़वानी में 16 और छिंदवाड़ा में 7 फ़ीसदी हो गया है.

इंदौर में 788 और भोपाल में 549 नये केस

इंदौर में 788 नये प्रकरण आए हैं जबकि भोपाल में 549, जबलपुर में 286, ग्वालियर में 146, उज्जैन में 98, रतलाम में 85, खरगोन में 75, बड़वानी में 73, कटनी में 65, छिंदवाड़ा में 62, बैतूल और नरसिंहपुर में 61, सिवनी में 56 और शाजापुर में कोरोना के 51 नये मरीज मिले हैं. प्रदेश के 23 जिलों में कोरोना के नये पेशेंट्स की संख्या 50 से 20 के बीच में है और 15 जिलों में यह संख्या 20 से नीचे है.

ज़्यादा पैसा वसूला तो खैर नहीं

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना समीक्षा बैठक में निर्देश दिये कि कोरोना के इलाज में कोई भी निजी अस्पताल शासन की ओर से निर्धारित दर से अधिक राशि नहीं वसूलें. अगर ज़्यादा पैसा वसूला तो निजी अस्पतालों पर कार्रवाई की जाएगी. आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए भी तय दर से अधिक राशि न वसूली जाए. मुख्यमंत्री ने कहा कोरोना संक्रमण को देखते हुए बड़े शहरों के साथ-साथ तहसील और विकासखण्ड स्तर पर भी पर्याप्त बेड की व्यवस्था की जाए. शासकीय के साथ-साथ निजी अस्पतालों का भी सहयोग लिया जाए.

मास्क नहीं लगाएंगे तो पाप के भागी बनेंगे

मुख्यमंत्री ने कहा कोरोना के‍ विरूद्ध इस युद्ध में जनता के साथ से ही जीत संभव होगी. घबराहट, डर या अविश्वास के माहौल में कमी लाना है. कोरोना संक्रमण से बचाव की सावधानियों जैसे मास्क, सोशल डिस्टेंस आदि का पालन समझाइश और प्रेम से कराने से ही जीत संभव होगी. कोरोना से बचाव के लिए जनसामान्य का सहयोगी भाव विकसित करना होगा. लोगों में यह विचार विकसित करना होगा कि यदि हम मास्क नहीं लगाएंगे तो हम बीमारी फैलाने के पाप के भागी बनेंगे. कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए किल कोरोना-II शुरू किया जाएगा.

अब पहले से ज़्यादा टेस्ट होंगे

मुख्यमंत्री ने कहा कि टेस्ट बढ़ाने के लिए सभी जिलों को नए लक्ष्य दिए गए हैं.सभी जिले इस लक्ष्य के अनुरूप टेस्ट को तत्काल बढ़ाएं. होम आइसोलेशन को प्रोत्साहित किया जाए और संक्रमण से गंभीर रूप से प्रभावित व्यक्तियों को ही अस्पतालों में भर्ती करें. इस संबंध में निश्चित एडमिशन प्रोटोकॉल विकसित कर पूरे प्रदेश में लागू किया जाए.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़े

google-site-verification=I1CQuvsXajupJY4ytqNfk1mN82UWIIRpwhZUayAayVM